श्री नरेंद्र मोदी, माननीय प्रधान मंत्री ने भद्राचलम रोड - सत्तुपल्ली के बीच की नई रेलवे लाइन राष्ट्र को समर्पित की



श्री नरेंद्र मोदी, भारत के माननीय प्रधान मंत्री ने आज अर्थात् 12 नवंबर, 2022 को रामगुंडम में आयोजित एक समारोह में वीडियो लिंक के माध्यम से भद्राचलम रोड - सत्तुपल्ली के बीच नई रेलवे लाइन राष्ट्र को समर्पित की. डॉ तमिलिसै सौंदरराजन, माननीय राज्यपाल, तेलंगाना राज्य; श्री जी.किशन रेड्डी, माननीय केंद्रीय संस्कृति, पर्यटन और पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्री; श्री भगवंत खुबा, माननीय केंद्रीय रसायन और उर्वरक, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री, भारत सरकार; श्री संजय कुमार बंडी, माननीय संसद सदस्य, करीमनगर ने इस कार्यक्रम की शोभा बढाई. इस अवसर पर श्री अरुण कुमार जैन, महाप्रबंधक, दक्षिण मध्य रेलवे; श्री ए.के.गुप्ता, मंडल रेल प्रबंधक, सिकंदराबाद मंडल और अन्य वरिष्ठ रेलवे पदाधिकारी भी उपस्थित थे.

 

इस अवसर पर भारत के माननीय प्रधान मंत्री, श्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज का दिन तेलंगाना राज्य के लोगों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि 10,000 करोड़ रुपए की लागत वाली कई प्रमुख विकास परियोजनाओँ को आज राष्ट्र की सेवा के लिए समर्पित किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि पिछले 8 वर्षों में, एनडीए सरकार ने देश के सर्वांगीण विकास के लिए कई पहल की हैं, जिससे भारत के लिए जल्द ही दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने का मार्ग प्रशस्त हुआ है.

इसके अलावा, माननीय प्रधान मंत्री ने बताया कि प्रधान मंत्री गति शक्ति राष्ट्रीय योजना के अंतर्गत पूरे भारत में रेल, सड़क, वायु, जल और इंटरनेट कनेक्टिविटी को बढ़ाया जा रहा है. इस श्रृंखला में, माननीय प्रधान मंत्री ने बताया कि भद्राचलम रोड - सत्तुपल्ली नई रेलवे लाइन परियोजना को देश की चौदह अति महत्वपूर्ण कोयला  परियोजनाओं की सूची में शामिल करते हुए इस पर विशेष ध्यान दिया गया. इन प्रयासों से 4 वर्षों से भी कम समय में विद्युतीकरण के साथ-साथ नई रेलवे लाइन परियोजना को चालू करने में मदद मिली है. उन्होंने आगे कहा कि पिछड़े और आदिवासी क्षेत्रों के सामाजिक आर्थिक विकास को सुनिश्चित करने के लिए हमारी सरकार की प्राथमिकता के अनुरूप, यह नई रेलवे लाइन उस क्षेत्र की महत्वपूर्ण प्रगति और समृद्धि के लिए बाध्य है, जिससे होकर यह लाइन गुजरती है.

 

श्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि नई रेलवे लाइन परियोजना तेलंगाना राज्य में भद्राद्री, कोत्तगूडेम और खम्मम जिलों के विकास में सहायक होगी. उन्होंने कहा कि रेलवे लाइन लोगों और उद्योग के लिए परिवहन का एक सुरक्षित, तेज और किफायती साधन प्रदान करेगी और युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर भी उत्पन्न करेगी.

 

इस अवसर पर श्री जी. किशन रेड्डी, माननीय मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार तेलंगाना राज्य के विकास के लिए प्रतिबद्ध है और इस संबंध में कई पहल कर रही है. उन्होंने बताया कि सरकार ने तेलंगाना राज्य में मेदक-सिद्दीपेट-एलकथुर्ति; बोधन-बासर-भैन्सा और सिरोंचा-महादेवपुर सेक्शन के बीच 2,268 करोड़ रुपये की प्राक्कलित लागत से 3 राष्ट्रीय राजमार्गों को चौड़ा करने का कार्य आरंभ किया है. इसके अलावा, माननीय मंत्री ने बताया कि रामगुंडम के लिए ईएसआई अस्पताल के लिए स्वीकृति दी गई.

 

श्री अरुण कुमार जैन, महाप्रबंधक, दमरे ने माननीय प्रधान मंत्री को भद्राचलम रोड - सत्तुपल्ली नई रेलवे लाइन परियोजना की प्रमुख विशेषताओं के बारे में जानकारी देते हुए एक संक्षिप्त प्रस्तुति दी.

भद्राचलम रोड - सत्तुपल्ली रेलवे लाइन खदानों से रेल लोडिंग टर्मिनल तक सड़क परिवहन को पूरी तरह से समाप्त करने में मदद करेगी, सड़क मार्ग से कोयले के परिवहन से जुड़ी समस्या को कम करेगी. कन्वेयर से प्राप्त कोयले का परिवहन अब रेलवे टर्मिनल से ओपन कास्ट खदान में सीधे किया जा सकता है. 200 एमटी से अधिक कोयले के भंडार के साथ, इस परियोजना से अगले 30 वर्षों में रेलवे द्वारा कोयले के परिवहन में सहायता मिलने की काफी संभावना है. नई लाइन सेक्शन में 10 बड़े पुल, 37 छोटे पुल, 40 निचले सड़क पुल और 07 ऊपरी सड़क पुल शामिल हैं.

Post a Comment

Previous Post Next Post